fbpx
Home 1

चारों वेदों से मिलकर बने गायत्री मंत्र का उच्‍चारण करने से व्‍यक्ति के जीवन में खुशियों का संचार होता है. इस मंत्र का जाप करने से शरीर निरोग बनता है और इंसान को यश, प्रसिद्धि और धन की प्राप्ति भी होती है.

गायत्री मंत्र
ॐ भूर्भुवः स्वः
तत्सवितुर्वरेण्यं
भर्गो देवस्यः धीमहि
धियो यो नः प्रचोदयात्

गायत्री मंत्र का अर्थ
भगवान सूर्य की स्तुति में गाए जाने वाले इस मंत्र का अर्थ निम्न है… उस प्राणस्वरूप, दुःखनाशक, सुखस्वरूप, श्रेष्ठ, तेजस्वी, पापनाशक, देवस्वरूप परमात्मा को हम अन्तःकरण में धारण करें. वह परमात्मा हमारी बुद्धि को सन्मार्ग में प्रेरित करे.

ASTRO REMEDIES

Home 2

प्रदा लक्ष्मी गणेश

पारद लक्ष्मी गणेश जी की मूर्ति सब मूर्तियों मेंश्रेष्ठ बताई गई हैं देवी लक्ष्मी माँ धन,सुख सुविधाएवम् ऐश्वर्य प्रदान करनेवाली देवीहैं। भगवान गणेशजीकी पूजा का विधान हैं

Home 3

लक्ष्मी रूद्र माला

रुद्राक्ष एक रक्षा कवच के रूप में कार्य करता है लक्ष्मी रूद्र माला मां लक्ष्‍मी को अतिप्रिय है।धन प्राप्‍ति के लिए मां लक्ष्‍मी के मंत्रों का जाप भी स्‍फटिक की माला से ही किया जाता है।

Home 4

मेरु भाग्यलक्ष्मी अंगूठी

भारतीय शास्त्रों ग्रंथों,के अनुसार मेरु भाग्यलक्ष्मी अंगूठी को बेहद ही शुभ माना गया है।

LAL GUNGA MALA

लाल गूंजा माला

लाल गूंजा माला पर माँ लक्ष्‍मी जी की असीम किर्प्या होती है इसका प्रयोग करने से धन की प्राप्‍ति होती है और धन आगमन के मार्ग अपने आप बनने लगते हैं । जैसे लाभ कर्ज मुक्ति...

RINGES

Home 5

पन्ना रतन अंगूठी (कन्या राशि)

इस रत्न को धारण करने से अनिश्चितता निश्चितता में बदल जाती है। छात्रों की स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए विशेष रत्न साबित होता है। दमा के मरीजों महिलाओं के लिए लाभकारीहै।

Home 6

ओपल रतन अंगूठी (तुला राशि)

ओपल रत्न सुंदर रत्नों की श्रेणी में पाया जाता हैं। ओपल शुक्र ग्रह का रत्न हैं। वैदिक ज्योतिष के अनुसार ये ग्रह ग्लैमर,आकर्षण, प्रेम, सौंदर्य, रोमांस, फैशन उद्योग का प्रतिनिधित्व करता है

Home 7

नीलम रतन अंगूठी (मकर राशि )

यह सबसे तेज़ असर करने रत्नों में से एक है और इसका प्रभाव तुरंत महसूस होता है। यह पहनने के पहले दिन से हीयहधन,शुभकामनाएं,अवसर प्रपात करवाता है। निराशा को दूर करता है।

Home 8

मूंगा रतन अंगूठ (मेष राशि)

मूंगा रत्न जिसे धारण करने से अनेको प्रकार के फायदे प्राप्त होते है। इस रत्न को सोने/चॉदी या तॉबे में पहनने से बच्चों को नजर नहीं लगती एंव भूत-प्रेत व बाहरी हवा का भय खत्म हो जाता है।

RUDRAKSH

1 mukhi round rudraksha price

1 Mukhi Rudraksh

एक मुखी रुद्राक्ष को सबसे चमत्कारी और कल्याणकारी माना जाता है। साक्षात भगवान शिव का ही स्वरुप माना जाता हैं। यह रुद्राक्ष मुक्ति एवं धन लक्ष्मी की प्राप्ति में भी बेहद सहायक है |

Home 9

2 Mukhi Rudraksh

दो मुखी रुद्राक्ष में दो धारिया पायी जाती है | यह भगवान शिव और माँ पारवती का स्वरुप मन जाता है | इसे धारण करने से भगवान शिव और माता पारवती दोनों ही प्रसन होते है |

Home 10

3 Mukhi Rudraksh

तीन मुखी रुद्राक्ष को अग्नि का रूप माना गया है यह सत्य,राज,और तम इन तीनो का त्रिगुण शक्तिी रूप है तीन मुखी रुद्राक्ष ब्रह्मा, विष्णु और महेश का समावेश है |

Home 11

4 Mukhi Rudraksh

चार मुखी रूद्राक्ष को चतुर्भुज ब्रह्मा का प्रतिरूप माना जाता है। तथा चार वेदो का रूप मन जाता है। भगवन बुध इनके संचालक है। वा बुध के नकारात्मक प्रभाव को कम करने में लाभ कारी है

Book Pooja

पितृ दोष पूजा

शनि शांति पूजा

नवग्रह शांति पूजा

चांडाल दोष पूजा

नाग दोष पूजा

महामृत्युंजय पूजा

काल सर्प दोष पूजा

कस्त निवारन पूजा

SAFE & SECURE

100% safe & secure site as per latest International Norms.

SHIPPING POLICY

Know the shipping charges of any consignment right on click.

SERVICE MOTIVE

A Website run by Astrologers & Vastu experts, not by Businessmen.

Free Support

Free astrology service on call by pandit ji

Scroll to top